Jam Gate प्रकृतिक Beauty

जाम गेट एक पिकनिक place या spot है जो मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में स्थित महोव मदलेश्वर रोड पर स्थित है। विंध्याचल की पहाड़ियों में प्रकृति के आँचल में, जाम घाट की ऊँची पहाड़ी पर जाम गेट है, जो बहुत सुंदर है। इसे जाम गेट और घाट से नीचे बारिश के या थांड ke मौसम में सड़क यात्रा शिमला , कुल्लू , मनाली की सड़क नजारा याद दिलाती है। बारिश के मौसम में सड़क और घाट में बादल इतने क़रीब से दिखाई देते हैं कि उन्हें अपने हाथों से छू भी सकते हैं। पहाड़ी के झरने घाट के सफ़र के सभी रास्तों पर हमें बारिश में स्वागत करते हैं।

Jam Gate Natural WaterFall Mahow

जाम गाँव में किले के साथ jam gate mandir ही एक तालाब और बावड़ी भी बनाई गई थी, जो आज भी मौजूद हैं। बहुत सारे शिव जी के मंदिर भी पहाड़ी में स्थित हैं। जाम गेट से नर्मदा नदी एक चांदी के तार की तरह दिखती है।
जाम गेट इंदौर के ऐतिहासिक संस्कृति और आधुनिक विकास का महत्वपूर्ण प्रतीक माना जाता है। इसके आस-पास शानदार आर्किटेक्चर जाम गेट विभिन्न पर्व और महोत्सवों के दौरान पर्यटकों के बीच खास पसंदीदा स्थल है। इसे देखने के लिए लोग इसे खास रूप से भ्रमण करते हैं और इसकी ऐतिहासिक महत्वपूर्णता को महसूस करते हैं।जाम गेट के निकट ही बालाजी का मंदिर भी स्थित है जो श्रद्धालुओं के बीच बहुत प्रसिद्ध है।

jam gate photos

Jam Gate indore Fort

History –

jam gate history जाम गेट का निर्माण 18वीं शताब्दी में जाम गाँव में महारानी अहिल्या बाई होल्कर द्वारा किया गया था। उन्होंने महेश्वर से इंदौर जाने के लिए इस मार्ग का उपयोग किया। इस गाँव में किला, तालाब और बावड़ी का भी निर्माण किया गया था, जो आज भी मौजूद हैं।

QnA?

Q1. Jam Gate Distance

Ans जाम गेट सड़क (52.1 km) Khargone – Indore Hwy

Q2.Why is Jam Gate Famous?

Ans.इसे जाम गेट और घाट से नीचे बारिश के या थांड ke मौसम में सड़क यात्रा शिमला, कुल्लू, मनाली की सड़क नजारा याद दिलाती है। बारिश के मौसम में सड़क और घाट में बादल इतने क़रीब से दिखाई देते हैं कि उन्हें अपने हाथों से छू भी सकते हैं

Q3.What is the height of Jam Gate

Ans, 700 fit क़रीब हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *